अपने माता पिता को अनादर नहीं करना | Not Disrespecting Your Parents Motivational Story

लोगों को खोने से मत डरो डर इस बात से कहीं  कहीं लोगों को दिल रखते रखते तुम खुद को ना खो दूं

यह कहानी है एक अभी नाम की लड़का की है जिसकी शादी हो चुकी थी और दो बच्चे थे उसके घर में कहीं कोई कमी नहीं थी इकलौता संतान था बड़ी गाड़ी थी बांग्ला था उसके मम्मी पापा बड़े शांत स्वभाव के थे बिल्कुल नेक दिल इंसान लेकिन एक दिन सब कुछ बदल गया अभी की मां का देहांत हो गया 

वह इस दुनिया से अब जा चुकी थी और 1 महीने के बाद ही अभी ने अपने पिताजी से लड़ाई कर ली और बोला कि पापा जी आप के वजह से यह सब कुछ हुआ है बहू को बड़ी परेशानी होती है जो मेरी बहू है इसे काफी परेशानी होती है रिचुअल्स फॉलो करने पड़ते हैं इस साड़ी पहन के काम करना होता है यह मॉडल बनना चाहती है लेकिन यह बन नहीं पा रही है पापा आप से एक रिक्वेस्ट है जो नीचे गैरेज है आप उसमें जाकर शिफ्ट हो जाओ 

इस बंदे ने अपने ही पिता को अपने घर के नीचे गैरेज में शिफ्ट कर दिया इसके पापा कुछ नहीं बोले बिल्कुल चुपचाप अपना सामान उठाकर के नीचे गैरेज में शिफ्ट हो गए 15 दिन के बाद में यह अंकल जी ऊपर आते हैं डोरबेल बजाते हैं अभी बाहर निकलता है और देख करके चौक जाता है ऐसा लग रहा था कि अभी लड़ाई होने वाली है लेकिन अंकल जी लड़ाई नहीं करते उनके हाथ में कुछ वाउचर होते हैं 

और अभी को देते हैं और बोलते हैं कि बेटा यह 10 दिन की फॉरेन ट्रिप वाउचर है आपके लिए आपकी पत्नी के लिए आपकी फैमिली के लिए यह अभी के हाथों में दे देते हैं और कहते हैं आप के लिए सरप्राइज है जाओ घूम करके आओ मुझे लगता है कि तुम्हारी मम्मी के मरने के बाद काफी परेशान रहते हो यह वाउचर सही से लेकर घूमने जाओ मन हल्का हो जाएगा तुम्हारा बीवी बच्चे को भी साथ में ले जाओ जाओ पूरी फैमिली इंजॉय करो

तो 10 दिन के लिए अंकल जी अपने बच्चों को फॉरेन ट्रिप पर भेज देते हैं उसके बाद में अंकल जी खेल करते हैं जिस मकान में रह रहा था जिस घर में अभी रह रहा था उस 60000000 के मकान को 4 करोड़ में बेचकर अपने लिए एक छोटा सा घर खरीद लेते हैं और अभी का सारा सामान एक फ्लैट में शिफ्ट कर देते हैं अभी जब 10 दिन के बाद मैं फॉरेन ट्रिप से घूम कर के अपने घर आता है देखता है कि इसके घर के बाहर एक बड़ा सा ताला लगा होता है और बाहर एक गॉड बैठा होता है अभी बोलता है 

कि ताला किसने लगाया मेरे पापा कहां गए गॉड बोलता है कि अरे साहब क्यों परेशान हो रहे हो मुझे बोल कर के गए हैं बात करवा देना अभी बोलता है कि तुम क्या बात कर पाओगे मैं बात करता हूं अभी कॉल लगाता है तो उसके पापा का कॉल नहीं लगता है आउट ऑफ कवरेज आता है तब गॉड बोलता है अरे साहब नंबर नहीं लगेगा साहब मुझे दूसरा नंबर देकर गए हैं 

गार्ड जाता है अंदर छोटे से केबिन में से पर्ची निकाल कर लाता है कॉल करता है और बात करवाता है अभी कि उसकी पिता से अभी बोलता है पापा जी यह क्या तरीका है यहां पर ताला लगा हुआ है बच्चे कहां रहेंगे  हम बड़े परेशान हो रहे हैं तो उसके पापा जी बोलते हैं बेटा बस 15 मिनट रुकना मैं आ रहा हूं 15 मिनट के बाद गाड़ी आती है 

गाड़ी में अंकल जी उतरते हैं और बोलते हैं कि बेटा यह पकड़ो चाबी इस फ्लैट में तुम्हारा सारा सामान रखवा दिया है और 1 साल का किराया दे दिया है अब जैसे तुम्हें अपनी पत्नी को रखना है रखो अब मुझे परेशान मत करो तो अभी पूछता है कि पापा जी आप कहां रहेंगे तो अंकल जी कहते हैं बेटा मैंने तो अपना एक छोटा सा घर खरीद लिया हूं मैं उस में खुश हूं अब तुम्हें जैसे रहना है तुम रहो

इस गाने से हमें सीख मिलती है

जब एक छोटा बच्चा होता है अपने पिता के साथ पेड़ पर कौवा बैठा होता है तू जो छोटा सा बच्चा होता है अपने पिताजी से पूछता है पिता जी यह क्या है पिताजी कहता है बेटा एक कौवा है फिर से पूछता है वह बच्चा पिताजी यह क्या है पिताजी फिर से कहता है बेटा यह कब हुआ है मुझे छोटा बच्चा था वह लगातार दो तीन बार पूछता है और जो पिताजी होता है उसका एक ही जवाब कि बेटा यह कौवा है और आज हमसे हमारे पिता कुछ पूछ लेते हैं तो हम अपने पिताजी पर चिल्ला कर बोलते हैं उनसे बात भी नहीं करना चाहतेअपने जीवन में अपने माता पिता की इज्जत करना इससे पहले कि माता-पिता तुम्हारी इज्जत करना छोड़ दे और वैसे भी हमारे माता-पिता हमें कभी भी दुखी नहीं देखना चाहते हैं इसीलिए हमें अपने माता-पिता को भी दुखी करने का कोई हक नहीं

RELATED ARTICLES